व्रत और त्यौहार

Chhath Puja 2023 Niyam: छठ पूजा व्रत के नियम हैं बहुत कठिन, बिल्कुल भी न करें ये गलतियां

Chhath Puja 2023 Niyam: हिंदू पंचांग के अनुसार, छठ महापर्व का आरंभ आज से हो चुका है। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि के साथ छठ पूजा शुरू हो गई है, जो चार दिन चलते हुए 20 नवंबर को उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के साथ समाप्त होगा। पहले दिन नहाय-खाय, दूसरे दिन खरना, तीसरे दिन डूबते सूर्य को अर्घ्य और चौथे दिन उगते हुए सूर्य को अर्घ्य दिया जाता है। हिंदू धर्म के अनुसार, छठ महापर्व संतान के अच्छे स्वास्थ्य, लंबी आयु और उत्तम भविष्य के लिए रखा जाता है। इस दौरान माताएं 36 घंटे तक निर्जला व्रत रखती हैं। यह व्रत काफी कठिन माना जाता है। इसलिए छठ पर्व के दौरान कुछ बातों का अवश्य ध्यान रखना चाहिए, जिससे अशुभ फलों से बचा जा सके। आइए जानते हैं छठ पर्व के दौरान किन नियमों का रखें ख्याल।

छठ पूजा के दौरान ध्यान रखें ये बातें

करें नए चूल्हा का इस्तेमाल

छठ पर्व के दौरान प्रसाद बनाया जाता है। इसके लिए नए चूल्हे का इस्तेमाल करना चाहिए। अगर आप गैस का प्रयोग कर रहे हैं, तो नए स्टोव को लेकर आएं। बता दें कि छठ पर्व में इस्तेमाल किए गए चूल्हे को दोबारा इस्तेमाल नहीं किया जाता है।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

chhath puja surya namaskar

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

साफ-सफाई का रखें ख्याल

छठ पूजा के दौरान साफ-सफाई का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। छठ पूजा के दौरान इस्तेमाल की जाने वाली सभी सामग्री की सफाई का ध्यान रखें। प्रसाद बनाते समय पवित्रता का जरूर ध्यान रखें। इसके साथ ही नहा कर शुद्ध वस्त्र धारण करके ही प्रसाद बनाएं।

सात्विक भोजन का करें सेवन

नहाय-खाय के साथ छठ पूजा आरंभ हो जाती है। इस दौरान सात्विक भोजन का ही सेवन करना चाहिए। लहसुन-पियाद आदि का सेवन करने का मनाही होती है। ऐसा करने से सूर्य देव के साथ छठी मइया प्रसन्न होती हैं।

करें सेंधा नमक का इस्तेमाल

छठ पूजा के व्रत के दौरान नमक वाला भोजन बनाने की परंपरा है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि काला, सफेद के बजाय सेंधा नमक का इस्तेमाल करें।

chhath puja surya namaskar

नकारात्मक विचारों से रहें दूर

छठ महापर्व के दौरान आत्म विश्वास का मजबूत होना बहुत जरूरी है। इसके अलावा अपने ऊपर नकारात्मक ऊर्जा को हावी न होने दें। ऐसे में न गुस्सा करें और न ही किसी को भला-बुरा कहें।

Related Articles

Back to top button