फ़ोटो गैलरी

इस राज्य में भी अब मुस्लिम डिप्टी CM, पहली बार होने जा रहा है ऐसा..

लोकसभा चुनाव के बाद केंद्हार में सरकार को लेकर गहमागहमी का माहौल रहा लेकिन यही माहौल कुछ राज्यों में भी रहा. इसकी वजह ये थी कि वहाँ विधानसभा चुनाव थे. इन्हीं में से एक राज्य आंध्र प्रदेश था. आंध्र प्रदेश में केंद्र सरकार किसकी बनेगी इससे ज़्यादा चर्चा इस बात की थी कि राज्य में कौन सत्ता में आयेगा. यहाँ मुख्य मुक़ाबला तेदेपा और YSR कांग्रेस पार्टी के बीच था. इस चुनाव में YSR कांग्रेस पार्टी ने शानदार जीत हासिल की.

लोकसभा चुनाव में जहां भाजपा के बड़ी जीत हासिल करने के बाद लोग इन चर्चाओं में मसरूफ हैं कि किसको नई सरकार में कौन सा पद मिला वहीँ आंध्र से एक ऐसी ख़बर आ रही है जो चर्चाओं में आ गई है. यहाँ YSR कांग्रेस पार्टी ने बड़ी जीत हासिल की. इसके साथ ही ये तय हो गया था कि जगन मोहन रेड्डी प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे.

होंगे पाँच उपमुख्यमंत्री

रेड्डी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ भी ले ली है लेकिन अब जो ख़बर राज्य से आ रही है वो बहुत दिलचस्प है. ख़बर है कि राज्य में एक दो नहीं बल्कि पाँच उप-मुख्यमंत्री होंगे. पाँच उप-मुख्यमंत्री होने की वजह यहाँ पर अलग-अलग समुदाय के लोगों को रिप्रजेंटेशन देने से नज़र आ रहा है. जगन मोहन की कैबिनेट में 5 अलग-अलग क्षेत्रों से 5 उपमुख्यमंत्री होंगे. रायलसीमा, प्रकाशम, कृष्णा डेल्टा, गोदावरी,हासिल की. विजाग के 5 डिप्टी सीएम होंगे.

सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसकी माने तो एक अनुसूचित जाति का व्यक्ति उप मुख्यमंत्री बनेगा, एक अनुसूचित जनजाति का व्यक्ति उपमुख्यमंत्री होगा एक पिछड़ी जाति का होगा एक अल्पसंख्यक समुदाय का होगा और एक कापू समुदाय का व्यक्ति मुख्यमंत्री बनेगा. जानकारी दी गई कि 5 DY CM, CM और 19 कैबिनेट मंत्रियों सहित कुल 25 मंत्री शनिवार सुबह 11.49 बजे शपथ लेंगे.

बैठक में हुआ अहम् फ़ैसला

आपको बता दें कि शपथ ग्रहण समारोह समारोह अमरावती में होगा. शुक्रवार को YSRCP के विधायकों की बैठक हुई. इस तरह की भी ख़बर है कि ढाई साल बात मंत्रिमंडल में बदलाव किया जाएगा.सूत्रों के मुताबिक़ आंध्र में मुस्लिम उपमुख्यमंत्री बनेगा. इसका अर्थ है कि तेलंगाना की बाद आंध्र में भी मुस्लिम उपमुख्यमंत्री होगा. विधानसभा चुनाव में YSR कांग्आरेस पार्पटी ने एक तरफ़ा जीत दर्ज की. YSR कांग्रेस पार्टी ने 175 में से 151 सीटों पर जीत दर्ज की थी. पार्टी को 49.9 फीसद वोट मिले जबकि तेदेपा को महज़ 23 सीटें मिलीं और 39.2 फीसद वोट मिले.एक समय माना जा रहा है कि जगन मोहन रेड्डी की राजनीति ख़त्म हो गई है लेकिन उन्होंने एक बार फिर से शानदार वापसी की है.

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Technically Supported By : Infowt Information Web Technologies