व्रत और त्यौहार

महा शिवरात्रि 2024: त्योहार की तिथि, इतिहास, महत्व और उत्सव

महाशिवरात्रि, हिंदू धर्म का एक महत्वपूर्ण पर्व, भगवान शिव के प्रति समर्पण का उत्सव है। पूरे भारत में पूरे उत्साह के साथ मनाया जाता है, भक्त उपवास करते हैं, ध्यान लगाते हैं, मंदिरों में जाते हैं और शिव पूजा से जुड़े अनुष्ठान करते हैं। इस वर्ष, महाशिवरात्रि 8 मार्च, 2024 को पड़ रही है।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

पौराणिक कथा के अनुसार, यह शिव के ब्रह्मांडीय नृत्य और हलाहल विष के सेवन की रात्रि का प्रतीक है। इस दिन उपवास रखना आध्यात्मिक रूप से बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है, जो शिव की वर्ष भर की पूजा के समान है। यह त्योहार शरीर, मन और आत्मा की शुद्धि का प्रतीक है, जो नई शुरुआत और आध्यात्मिक विकास का अवसर प्रदान करता है।

महाशिवरात्रि के अनुष्ठानों में शिवलिंग को दूध, शहद और जल से स्नान कराना और भक्तों का सारी रात जागना शामिल है। यह आत्मनिरीक्षण और दिव्य शक्ति के साथ अपने संबंध को नया करने का समय है। कश्मीर से लेकर तमिलनाडु तक, यह त्योहार मेलों, जागरणों और दिन भर चलने वाले उपवास सहित अनूठ रीति-रिवाजों के साथ मनाया जाता है। महाशिवरात्रि का उल्लेख स्कंद पुराण और पद्म पुराण जैसे प्राचीन ग्रंथों में मिलता है, जो हिंदू धर्म में इसके सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व को रेखांकित करता है।

Related Articles

Back to top button