health

PCOS और पेट की चर्बी कम करने के लिए मसालों का जादू!

पीसीओएस (PCOS) या पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम महिलाओं में होने वाली एक आम समस्या है, जिसमें हार्मोनल असंतुलन होता है, जिससे अक्सर पेट की चर्बी बढ़ जाती है। इससे निपटने के लिए, नियमित व्यायाम के साथ सही मात्रा और समय में अपने पानी में कुछ मसालों को शामिल करना फायदेमंद हो सकता है।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े Join Now

पीसीओएस न सिर्फ पीरियड्स और फर्टिलिटी (fertility) को प्रभावित करता है, बल्कि हार्मोनल असंतुलन के कारण वजन, मूड और पाचन जैसे कारकों को भी प्रभावित करता है। इसका एक आम प्रभाव पेट की चर्बी का जमा होना है, जिसे पानी में डाले गए कुछ मसालों का सेवन करके कम किया जा सकता है।

सौंफ, मेथी और दालचीनी तीन ऐसे मसाले हैं जो पेट की चर्बी कम करने में खासकर पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं के लिए सहायक हो सकते हैं। ये मसाले इंसुलिन प्रतिरोध को कम करके काम करते हैं, जो पीसीओएस से जुड़ी एक आम समस्या है और जिसके कारण रक्त शर्करा का स्तर असंतुलित हो जाता है और पेट के आसपास वजन बढ़ जाता है।

  • सौंफ फाइबर से भरपूर होती है, जो वसा जलने और इंसुलिन एवं कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करती है।
  • मेथी के दाने इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने और वसा के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करते हैं।
  • दालचीनी इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाती है और इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट पाचन को बेहतर बनाते हैं।

इन मसालों को पानी में मिलाकर खाली पेट इसका सेवन करना पीसीओएस से जुड़ी पेट की चर्बी से लड़ने का एक प्रभावी तरीका हो सकता है। नियमित रूप से पीने से पीरियड्स को नियमित करने और मासिक धर्म के दौरान होने वाले रक्त के थक्कों को कम करने में भी मदद मिल सकती है।

इस पेय को बनाने की सरल विधि:

सामग्री:

  • 1/2 छोटा चम्मच मेथी के दाने
  • 1/2 छोटा चम्मच दालचीनी पाउडर
  • 1 छोटा चम्मच सौंफ

विधि:

  • सभी सामग्रियों को पानी में मिलाएं।
  • मिश्रण को 5 मिनट तक उबालें।
  • छानकर खाली पेट पिएं।

कुछ दिनों तक लगातार पीने से परिणाम दिख सकते हैं।

स्वास्थ्य संबंधी किसी भी चिंता को आप कमेंट सेक्शन में साझा कर सकते हैं, और हम अपने लेखों के माध्यम से उनका समाधान करने का प्रयास करेंगे। अगर आपको यह लेख मददगार लगा, तो इसे दूसरों के साथ साझा करें और अधिक जानकारीपूर्ण सामग्री के लिए जुड़े रहें।

नोट: यह जानकारी किसी चिकित्सकीय सलाह का विकल्प नहीं है। किसी भी उपाय को आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

Related Articles

Back to top button