धर्म कथाएं

Shani Gochar In Aquarius 30 साल बाद ‘कुंभ’ राशि में आ रहे शनि देव, इन कामों से दूर रहें वरना हो जाएंगे बर्बाद

Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia 29 अप्रैल 2022 में शनि अपनी स्वराशि कुंभ में प्रवेश करने जा रहे हैं। शनि ग्रह में होने वाले इस बदलाव से कई लोगों की जिंदगी प्रभावित होगी।

साल 2021 में शनि का गोचर नहीं हुआ था। लेकिन ढाई साल बाद 2022 में शनि अपनी राशि बदल देंगे। (Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia)  ज्योतिषीय गणना के अनुसार करीब 30 साल बाद 29 अप्रैल 2022 को शनि अपनी ही राशि मकर राशि को छोड़कर दूसरी राशि कुंभ में प्रवेश कर रहे हैं। पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डा. अनीष व्यास ने बताया कि शनि का यह गोचर सभी के लिए महत्वपूर्ण रहेगा। शनि के प्रत्येक गोचर का प्रत्येक मनुष्य के जीवन पर एक निश्चित प्रभाव पड़ता है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुछ राशियों के लिए यह गोचर न केवल शुभ साबित होगा बल्कि उनके लिए सौभाग्य, धन, समृद्धि और ढेर सारी खुशियां भी लाएगा। शनि का यह गोचर कुछ लोगों के लिए सौभाग्य लेकर आएगा, जबकि यह दूसरों के लिए मुश्किलें या चुनौतियां भी ला सकता है। (Shani Gochar 2022 ) शनि का गोचर ज्योतिष अनुसार काफी अहम माना जाता है। शनि को किसी भी राशि में प्रवेश करने में करीब ढाई साल का समय लग जाता है।

anish vyas astrologer

ज्योतिषाचार्य डा. अनीष व्यास ने बताया कि 29 अप्रैल 2022 में शनि अपनी स्वराशि कुंभ में प्रवेश करने जा रहे हैं। शनि ग्रह में होने वाले इस बदलाव से कई लोगों की जिंदगी प्रभावित होगी। किसी पर इस दौरान शनि साढ़े साती शुरू हो जाएगी तो किसी पर शनि ढैय्या। वहीं किसी को शनि की दशा से मुक्ति मिल जाएगी। शनि सभी ग्रहों में सबसे धीमी गति से चलने वाला ग्रह माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र में मान्यता है कि शनि देव अत्यंत धीमी गति से चलते हैं। (Shani Gochar 2022 ) शनि ग्रह को एक राशि से दूसरी राशि में जाने में लगभग 2.5 वर्ष का समय लगता है। जब भी शनि ग्रह राशि परिवर्तन करते हैं तो कुछ राशियों पर शनि ढैया और कुछ राशियों पर शनि की साढ़े साती शुरू हो जाती है।

30 साल बाद कुंभ राशि में शनि का प्रवेश (Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia)

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि शनि देव अब 30 साल बाद कुंभ में प्रवेश कर रहे हैं। ज्योतिष में मान्यता है कि शनि राशि परिवर्तन करता है तो सभी राशियों का जातक पर शुभ और अशुभ प्रभाव पड़ता है। (Shani Gochar 2022 ) जिन लोगों की कुंडली में शनि देव शुभ भाव में होते हैं, उन पर शनि देव बहुत कृपालु रहते हैं। वहीं जिन लोगों की कुंडली में शनि गलत भाव में स्थित है, उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में 29 अप्रैल को शनि के राशि परिवर्तन के बाद तीन राशियों पर शनि देव की विशेष कृपा रहेगी।

शनि हैं कुंभ राशि के स्वामी ग्रह (Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia) 

कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि ज्योतिष के अनुसार कुंभ राशि के स्वामी ग्रह शनि हैं। इधर 30 साल बाद शनि देव कुंभ राशि में प्रवेश करने वाले हैं। 29 अप्रैल 2022 को वे कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। स्वामी ग्रह होने के कारण कुंभ राशि वालों पर इनकी विशेष कृपा रहेगी। इसके अलावा शनि मकर राशि के भी स्वामी हैं। मिथुन राशि इनकी उच्च जबकि मेष निम्र राशि है।

साढ़ेसाती Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia

भविष्यवक्ता डा. अनीष व्यास ने बताया कि वैदिक ज्योतिष के अनुसार शनिदेव पिछले दो साल से ज्यादा समय से मकर राशि में गोचर कर रहे हैं। शनि के मकर राशि में होने से धनुए मकर और कुंभ राशि वालों पर इस समय शनि की साढ़ेसाती का असर है। (Shani Gochar 2022 )  29 अप्रैल 2022 को शनि जैसे ही कुंभ राशि में प्रवेश करते ही मीन राशि वालों पर शनिदेव की साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। वहीं दूसरी तरफ धनु राशि वालों को साढ़ेसाती से मुक्ति मिल जाएगी। मकर राशि वालों के ऊपर शनि का आखिरी चरण और कुंभ राशि वालों पर दूसरा चरण शुरू हो जाएगा।

शनि की ढैय्या (Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia) 

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि शनि के कुंभ राशि में गोचर करने से दो राशि वालों पर शनि की ढैय्या शुरू हो जाएगी। कर्क और वृश्चिक वालों पर ढैय्या शुरू हो जाएगी। अभी मिथुन और तुला राशि वालों पर शनि की ढैय्या चल रही है। शनिदेव तुला राशि में हमेशा अच्छा परिणाम देते हैं यानि तुला राशि में उच्च के होते हैं जबकि मेष राशि में नीच के होते हैं। शनि की महादशा 19 वर्ष की होती है। शनि को कुंभ और मकर राशि के स्वामी माना जाता है। अगर जातक की कुंडली में शनि मजबूत और शुभ भाव में बैठे होते हैं तो व्यक्ति को बहुत सम्मान और पैसा प्राप्त होता है।

तुला, मेष, वृ़षभ, धनु राशि के लिए शुभ Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि शनि देव के कुंभ राशि में प्रवेश करने से तुला, मेष, वृ़षभ, धनु राशि वाले लोगों के लिए शुभ होगा। ऐसे में इन राशि वालों की आय में बढ़ोतरी होगी, धन संबंधी परेशानी दूर होगी। जीवन साथी के अलावा माता-पिता का भी भरपूर सहयोग मिलेगा। नौकरी के भी ऑफर मिल सकते हैं तथा नए प्लान से लाभ मिलेगा। (Shani Gochar 2022 In Aquarius Effect On Zodia)

यह भी पढे़ं: Remedies of death in Panchak Kaal अभी चल रहे हैं राज पंचक, न करें कोई शुभ काम क्योंकि यह हैं घोर अशुभ

उपाय

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि शिव उपासना और हनुमत उपासना करें। मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान चालीसा एवं शनि चालीसा का पाठ करें। शनिवार के दिन शनि मंदिर में छाया दान अवश्य करें। गरीब, वृद्ध, असहाय लोगों को भोजन कराएं। पशु पक्षियों के लिए दाने, हरे चारे, पानी की व्यवस्था करें। तेल का दान भी करना चाहिए। तेल दान करने से आपको अपने कष्टों से छुटकारा मिलता है। शनिवार को लोहे से बनी चीजों को दान करना चाहिए। इस दिन लोहे का सामान दान करने से शनि देव शांत होते हैं। लोहा दान देने से शनि की दृष्टि निर्मल होती है। काले कुत्ते को शनिवार के दिन सरसों के तेल से बनी रोटी खिलाएं। सूर्यास्त के समय पीपल के पेड़ के पास सरसों के तेल का दीपक जलाने से शनि दोष से मुक्ति मिलती है।

इन गलतियों को करने से बचें

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि किसी असहाय को बेवजह परेशान नहीं करें। मांस, मदिरा का सेवन बिल्कुल नही करें। कमजोर व्यक्तियों का अपमान न करें। अनैतिक कार्यों से दूर रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button